चौरीचौरा समारोह के मुख्य आयोजन में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी शहीद स्मारक पर जनसभा को संबोधित करेंगे

स्वाधीनता आन्दोलन के इतिहास में सन् 1922 में हुई चौरीचौरा की घटना महत्वपूर्ण कड़ी बनी। इस घटना के सौ वर्ष पूरे होने पर चौरीचौरा शताब्दी समारोह चार फरवरी से शुरू होगा जो एक साल तक चलेगा। 4 फरवरी के मुख्य आयोजन में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शहीद स्मारक पर जनसभा को संबोधित करेंगे। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समारोह से ऑनलाइन जुड़ेंगे।
आयोजन की तैयारियों को लेकर शुक्रवार को डीएम के. विजयेंद्र पांडियन, सीडीओ इंद्रजीत सिंह, एडीएम राजेश कुमार सिंह, एसडीएम पवन कुमार, तहसीलदार लालजी विश्वकर्मा और सीओ दिनेश कुमार सिंह ने शहीद स्मारक, जनसभा स्थल और हेलीपैड का निरीक्षण किया। डीएम ने लोक निर्माण विभाग को जल्द से जल्द कार्यक्रम स्थल तक सड़क बनाने, शहीद स्मारक की सड़क और रेलवे के बीच स्थित लगे बिजली के पोल हटाने, रेलवे स्टेशन के सामने स्थित भूमि का समतलीकरण कर जल निकासी का इंतजाम कराने के निर्देश दिए। मुंडेरा बाजार जाने वाले मार्ग पर स्थित नालियों से अतिक्रमण हटाने और नाले की सफाई के भी निर्देश दिए। इस दौरान नगर पंचायत चेयरमैन प्रतिनिधि ज्योतिप्रकाश गुप्ता, पूर्व प्रमुख ईश्वरचंद जायसवाल, दीपक कुमार जायसवाल, राजकुमार व्यास, प्रकाशचंद्र नन्हे, अवधनारायण जायसवाल, राजकुमार जायसवाल, राजकुमार गुप्ता, जिला कोआर्डिनेटर बच्चा सिंह आदि मौजूद रहे।

बिस्मिल, बाबा राघवदास और बंधू सिंह की प्रतिमा लगेगी

डीएम ने स्मारक में बड़ा राष्ट्रीय ध्वज, शहीद स्थल पर अखंड ज्योति लगाने के साथ ही संग्रहालय की टूटी प्रतिमाएं ठीक कराने का भी निर्देश दिया। उन्होंने शहीद स्मारक संग्रहालय में अमर शहीद पण्डित रामप्रसाद बिस्मिल, शहीद बंधू सिंह और बाबा राघवदास की प्रतिमा लगाने का भी निर्देश दिया। तहसील दिवस पर भाजपा के मनोनीत पार्षद प्रकाश चंद नन्हे, पंडित राजकुमार व्यास और अवध नरायन जायसवाल ने डीएम को मांगपत्र दिया था। शुक्रवार को भी डीएम के समक्ष अपनी मांग दोहराई।

माइधिया पोखर एवं रामलीला मैदान का भी किया निरीक्षण

डीएम ने शहीद स्मारक से चार किमी दूर स्थित माइधिया पोखर और रामलीला मैदान निरीक्षण किया। इस मैदान में ही हेलीपैड बनाया जाएगा। डीएम ने सीडीओ को निर्देश दिया कि हेलीपैड से स्मारक तक सभी अतिक्रमण हटाए जाए। सीडीओ ने डीपीआरओ हिमांशु शेखर ठाकुर को हेलीपैड से स्मारक तक सफाई कराने के निर्देश दिए।

 

अंडरपास से पल्ला झाड़ रहा रेलवे

हेलीपैड स्थल पर डीएम ने पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन एसपी भारती से अंडरपास की प्रगति के बारे में पूछा। इस पर एक्सईएन ने बताया कि रेलवे वाराणसी मंडल अंडरपास बनाने से इनकार कर रहा है। ओवरब्रिज को पहले ही रिजेक्ट कर दिया था। डीएम ने वाराणसी मंडल के रेलवे अधिकारी का नंबर लेकर खुद बात करने की बात कही।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129