भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ निर्णायक जंग जारी है। टीकाकरण के पहले फेज में स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लग रहा है, मगर अब भी कई लोगों के मन में सवाल है कि आखिर 50 साल से अधिक उम्र के लोगों की बारी कब आएगी। इस बाबत सरकार ने कहा है कि जल्द ही 50 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। सरकार की योजना है कि वैक्सीन की आपूर्ति में वृद्धि होते ही कोरोना के खिलाफ 50 साल से ऊपर के लोगों को टीका लगाना शुरू किया जाएगा।

भारत सरकार के स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए टीकाकरण 3 फरवरी से शुरू हुआ। जब इनको वैक्सीन लग जाएगी तो फिर 50 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण बहुत जल्द हो जाएगा।। हालांकि, उन्होंने कहा कि इसमें भी 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को प्राथिकता दी जा सकती है। बता दें कि भारत में 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीन के खिलाफ टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में अबतक यानी महज 19 दिन के भीतर लगभग 45 लाख लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया जा चुका है। भारत 18 दिन के भीतर 40 लाख लोगों को टीका लगाकर सबसे तेज गति से टीकाकरण करने वाला देश बन गया है। सरकार की योजना है कि अप्रैल तक तीन करोड़ हेल्थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन लग जाए। इसके बाद 50 साल से अधिक या बीमारी वाले लोगों को टीका दिया जाएगा। हालांकि, टीकों की पर्याप्त आपूर्ति अगर होती है तो यह संभव है कि टीकाकरण में कई प्राथमिकता समूह एक साथ कवर किए जा सकते हैं।

नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने कहा कि कोरोना से जंग में हम अच्छा कर रहे हैं और मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि कल तक हमारे 50 फीसदी स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लग जाएगा। इसका मतलब है कि हमारी स्वास्थ्य सेवाएं बिना किसी डर के आगे बढ़ सकती हैं। इससे यह भी पता चलता है कि हमने मेड-इन-इंडिया वैक्सीन की स्वीकार्यता सुनिश्चित करने में काफी प्रगति की है और वैक्सीन लेने में डर और संकोच से बहुत अच्छी तरह से निपटा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ‘कई अन्य देशों को ऐसा करने में 65 दिन लगे थे। भारत ने 16 जनवरी को राष्ट्रव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान शुरू किया था। टीकाकरण कराने वाले लोगों की संख्या में हर रोज वृद्धि हो रही है।’ इसने कहा कि पिछले 24 घंटे में 8,041 सत्रों में 3,10,604 लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया गया और अब तक कुल 84,617 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए हैं। मंत्रालय ने कहा कि देश में 19 दिन के भीतर 44,49,552 लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया गया है।

भारत में महामारी के उपचाराधीन मरीजों की संख्या गिरकर अब 1,55,025 रह गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का महज 1.44 प्रतिशत है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि भारत में अब तक की दैनिक संक्रमण दर 1.82 प्रतिशत है। इसने कहा कि भारत में पिछले कुछ हफ्तों (19 दिन) से दैनिक संक्रमण दर दो प्रतिशत से नीचे बनी हुई है। देश में महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या 1,04,80,455 हो गई है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129