मुख्यमंत्री योगी ने वाराणसी में संचारी रोग अभियान का शुभारंभ करते हुए कहा – उत्तर प्रदेश में हर जगह पर आसानी से चिकित्सा सेवा उपलब्ध होगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में रविवार को संचारी रोग अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि उत्तर प्रदेश में हर जगह पर आसानी से सभी को चिकित्सा सेवा उपलब्ध होगी। दूरगामी क्षेत्रों में टेलीमेडिसिन प्रक्रिया पर काम हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि पिछले साल ही स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने का काम किया गया। कोरोना के कारण आयोजनों  को  स्थगित करना पड़ा। लगभग दस महीने तक कोरोना से जूझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नई लड़ाई को आगे बढ़ाते हुए देश और प्रदेश में कोरोना को मात दी। आज देश में दो वैक्सीन आई हैं। कल से यह वैक्सीन सभी सरकारी के साथ प्राइवेट हॉस्पिटल में भी उपलब्ध होंगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में आज कोरोना वायरस संक्रमण न्यूनतम स्तर पर है।

कोरोना को मात देने के बाद अब हम तमाम प्रकार की बीमारियों के खिलाफ भी एक नया अभियान प्रारंभ कर रहे हैं। प्रदेश सरकार ने मस्तिष्क ज्वर के उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग को नोडल विभाग बनाते हुए अभियान प्रारंभ किया। पिछले दिनों लखनऊ में जेई टीकाकरण का एक विशेष अभियान प्रारंभ किया गया।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2020 से हर रविवार प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मुख्यमंत्री आरोग्य मेला का आयोजन शुरू हुआ था। कोरोना महामारी से पहले सिर्फ छह-सात मेला हो पाए थे। उस समय तक 30 लाख से अधिक लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई गई थी। आज मुख्यमंत्री आरोग्य मेला के दिन आरंभ हो रहे संचारी रोग अभियान के लिए मैं आप सबका हृदय से स्वागत और अभिनंदन करता हूं।

इससे पहले लखनऊ से हेलीकॉप्टर से वाराणसी पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भाजपा के कई नेता भी मौजूद रहे। मुख्‍यमंत्री इस दौरान पार्टी कार्यालय के उद्घाटन से लेकर कई प्रकार के आयोजनों में हिस्‍सा लेंगे। मुख्‍यमंत्री सबसे पहले चोलापुर पहुंचे तो उनके साथ अनिल राजभर भी मौजूद रहे। इस दौरान चोलापुर स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र का उन्‍होंने जायजा लिया और ऐंबुलेंस को हरी झंडी भी दिखाई। सीएम का हेलीकाप्टर सुबह लगभग साढ़े नौ बजे चोलापुर स्थित आदर्श इंटर कालेज में बनाए गए हेलीपैड पर उतरा। सीएम वहां से सीएचसी पहुंचे और संचारी रोग अभियान का शुभारंभ करेंगे। यहां से लगभग सवा दस बजे वह एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए जहां शाम छह बजे तक हरहुआ और रोहनिया में पार्टी के कार्यक्रम में  प्रतिभाग के बाद वह लखनऊ रवाना हो जाएंगे।

वहीं इससे पूर्व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चोलापुर से मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ ने प्रदेश व्यापी विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं कृमि मुक्त अभियान की शुरूआत की। इसके बाद सीएम ने आरोग्य मेले का भी निरीक्षण किया। संचारी रोगों व दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण एवं इनका त्वरित व सही उपचार सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस क्रम में विगत तीन वर्षों की तरह इस वर्ष भी संचारी रोगों की रोकथाम के लएि व्यापक अभियान चलाया जाएगा। दिमागी बुखार पर नियंत्रण के लिए एक से 31 मार्च तक संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम चलेगा, वहीं 10 मार्च से 24 मार्च तक दस्तक अभियान चलाया जाएगा।

इसके तहत संचारी रोग जैसे डेंगू, मलेरिया व दिमागी बुखार से बचाव, व्यक्तिगत तथा पर्यावरण स्वच्छता आदि के साथ ही कोरोना संक्रमण के नियंत्रण आदि के बारे में लोगों को जागरूक किया जायेगा। इसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास, पंचायती राज, पशुपालन विभाग, बाल सेवा एवं पुष्टाहार विभाग, शिक्षा विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग, उद्यान विभाग दिव्यांग जन कल्याण विभाग, सूचना विभाग कृषि एवं सिंचाई विभाग सहित अन्य विभाग समन्वय बनाकर कार्य करेंगे। दस्तक अभियान में आशा और आगंनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों को डेंगू, चिकनगुनिया, जेई, एईएस आदि संचारी रोगों के प्रति जागरूक करेंगी।

वहीं वाराणसी को छोडकर प्रदेश के 25 जिलों में संचारी रोग नियंत्रण अभियान के साथ ही राष्ट्रीय कृमि मुक्ति अभियान भी चलाया जाएगा, जसिके तहत किशोर एवं किशोरियों को एल्बेंडाजोल टैबलेट व आयरन की गोलियों का वितरण किया जाएगा। सीएम योगी ने इस कार्यक्रम का भी उद्घाटन किया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129